Memories

The places where moments reside

होली और वृन्दावन की विधवाएं


Widows of vrindavan

ज़िन्दगी के रंग बदरंग होने के बाद ये होली ,

मौका देती है गलियों में हाथ फैलाए कुछ मांगने वाली , राह तकती सफ़ेद   कपड़ों में लिपटी हुई उनको,

राधे राधे जप कर वृन्दावन की गलियों और रास्तों में रोज़ अपनी ज़िन्दगी तलाशती हुई,

आश्रमों में बाकी साथियों के साथ एक ढर्रे पे चलती ज़िन्दगी को देखती  हुई, दूसरों को रंगों में भीगते देखते हुए,

ज़िन्दगी के सफ़र पर अकेले चलती उन औरतों को अपने अकेले संसार में  कुछ रंग भरने का,

जिन्हें हम वृन्दावन की विधवाएं कहते हैं...

ज़िन्दगी के रंग तो गायब हो गए उनकी ज़िन्दगी से, होली के रंगों से खेलने का तो हक बनता है न उनका.....

प्रह्लाद, होलिका, कृष्णा , राधा और न जाने कौन कौन ...सबको हमने होली से जोड़ दिया और समाज के नाम पे अलग कर दिया " वृन्दावन की विधवाओं" को

कसूर क्या है इनका ? 

इनका कोई साथ देने वाला नहीं कोई , या परिवार के लिए यह बोझ हैं ? 

दुनिया के सामने दिखावा करने वाले इस देश में यह यह एक कड़वी सच्चाई ही हैं,

वृन्दावन आखिरी आसरा है इनका .

इस आसरे में से भी रंगों का आसरा छीन कर क्या मिलेगा हमको ?

इस देश में जब त्यौहार सबके लिए हैं तो यह निष्कासित क्यूँ होली से ?

गिले शिकवे भुलाकर खेलने वाले त्यौहार में ही समाज ने एक अलग ही दीवार खड़ी कर दी इनके लिए ,

कुछ खुल कर होली खेलती हैं , अबीर ,गुलाल के रंगों से ही सही अपने ज़िन्दगी के सफ़ेद कैनवास कुछ रंगीन रंग बिखेर लेती हैं 

सालों से कुछ सहमी हुई सिर्फ रंग की छोटी बिंदी लगा लेती हैं , पता नहीं यह बदलाव आगे भी रहे न रहे 

चाहे कुछ भी हो... 

होली के रंगों से खेलने का तो हक बनता है न उनका भी .....


The story behind this - पिछले कुछ सालों में वृन्दावन की विधवाओं ने जब से होली का त्यौहार मनाना शुरू किया, तो बस यूँ ही ख्याल आया की एक त्यौहार मनाने को लेकर लगी रोक को कायम रखकर हम ऐसे कौनसे समाज का निर्माण कर रहे हैं जो सदियों पुरानी परम्परों पर बस यूँ ही चलता आ रहा है ....
होली और वृन्दावन की विधवाएं होली और वृन्दावन की विधवाएं Reviewed by Shwetabh on 7:29:00 PM Rating: 5

5 comments:

  1. this is pilot..bold, audacious, sensible

    ReplyDelete
  2. A festival should be for everyone... sabka hak banta hain tyohar manane ka... :-)

    ReplyDelete
  3. This is really a great post. Thank you for taking time to provide us some of the useful and exclusive information with us. Keep on blogging!!

    Digital Marketing Training in Chennai

    ReplyDelete