वो नज़ारा ... #fridayfotofiction

Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers





“वो घुटनों के बल बैठा था?”



“नहीं, मैं बस नज़ारे में खोयी हुई थी और उसके उतनी सी देर में सब 

कर..मेरा मतलब पीछे से आकर बाहों में भर लिया और वो सवाल 


पूछ 
डाला. मैं न नहीं कर सकी. क्या हुआ अगर तरीका वो नहीं था. 

आखिर में ज़िन्दगी भर का नज़ारा और वो, दोनों ही मिल गए न“

मेरी छोटू पगलु बहना – छवि. इतनी आत्मनिर्भर मगर फिर भी 

मासूम. उस इश्क को ढूँढती जो किताबों में मिलता है. अविनाश के 

साथ काम करते करते हो गया. 

अवि से पूछा, “ऐसी कौनसी जगह ले कर गया था छवि को कि वो 


सब 
कुछ ही भूल गयी ?

चलिए दिखाता हूँ

नई जगह वो मुझे हाथ पकड़ कर लाया, फिर छवि का मेसेज, “भाई 

जगह पसंद आये तो गरिमा भाभी को यहीं ला कर propose करना”.


नज़ारा देखने के बाद मेरे होंठ खुद ही बोले , “ बिल्कुल”.

Linking up with Tina and Mayuri.
वो नज़ारा ... #fridayfotofiction वो नज़ारा ... #fridayfotofiction Reviewed by Shwetabh Mathur on 9:48:00 AM Rating: 5

8 comments:

  1. Really sweet story, Shwetabh.
    Thank you for writing for #FridayFotoFiction

    ReplyDelete
  2. Wow... loved your take on the prompt Shwetabh.

    ReplyDelete
  3. Lovely Shewtabh, you are doing great on the prompts. Thanks for linking up with #FridayFotoFiction

    ReplyDelete
  4. This was interesting. I liked this.

    ReplyDelete
  5. Interesting read, when in the language close to you it feels all the more better.

    ReplyDelete
  6. That was a super cool romantic take!
    -Anagha from Team MocktailMommies
    https://mocktailmommies.blogspot.in/2017/09/catch-that-lost-match-of-life.html?m=1

    ReplyDelete
  7. Just Wow! I would love to use this shayari for my love mate. I also find amazing couple stickers at https://www.doorstepall.com/collection/wall-stickers-for-couples-26/
    These are really cool!!!

    ReplyDelete