Memories

The places where moments reside

दिल की कलम से : थोड़ी इंसानियत तो जिंदा है जनाब दिल की कलम से : थोड़ी इंसानियत तो जिंदा है जनाब Reviewed by Shwetabh on 1:20:00 PM Rating: 5